No icon

सी एल जी की मीटिंग में सौहार्द बनाने का आहवान

2 अप्रैल को किये गए आंदोलन के बाद कई जगह उपजे तनाव के हालातों के मध्य नजर बुधवार शाम को सीएलजी समिति की बैठक हुई । जिसमें सर्व समाज के माननीय लोग माजूद रहे ।बैठक में मौजूद एडिशनल SP प्रकाश शर्मा,उपखंडअधिकारी सन्तोष मीना, sho ख़लील अहमद आदि ने कहा कि समाजो में आपसी टकराव की स्थिति नही बननी चाहिए ।बैठक में मौजूद एक व्यक्ति के विपरीत टिप्पणी करने से एक बार लोग नाराज भी हो गए,तथा उसको अपनी भाषा को संयमित रखने की बात कही,मौके पर माजूद प्रशासन ने हालत काबू कर लिए उपखंड अधिकारी ने कहा कि शांतिपूर्ण बंद के निपट जाने से प्रदेश भर में बयाना इलाके के लोगों का मान बड़ा है । समस्त जिलो की आम जनता से राजस्थान पुलिस अनुरोध करती नजर आई है कि जिले की सामाजिक समरसता और आपसी सौहाद्र को बनाए रखने के लिए कोई भी व्यक्ति, किसी भी वर्ग विशेष के समुदाय के विरुद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी, भाषण या सोशल मीडिया में कोई आपत्तिजनक पोस्ट करता है या धार्मिक उन्माद फ़ैलाने वाले, या साम्प्रदायिक द्वेश फ़ैलाने वाले, जातिगत घृणा फ़ैलाने वाले या मानव शरीर को निर्वस्त्र दिखाने वाले वीडियो /मैसेज/पोस्ट , करता है उसे शहर की अमन शांति भंग करने के आरोप में उसके विरुद्ध कठोर कानूनी कार्रवाई की जावेगी । इस संबंध में पुलिस प्रशासन द्वारा साइबर सेल की एक विशेष टीम गठित की गई है जो सोशल मीडिया के Facebook एवं WhatsApp के सभी ग्रुपों पर सूक्ष्मता से निगाह रख रही है अतः सभी WhatsApp के ग्रुप एडमिन अपने ग्रुप में जुड़े सभी सदस्यों को मैसेज के माध्यम से उन्हें समझाइश दी जाए कि ग्रुप में किसी भी तरह की आपत्तिजनक टिप्पणी नहीं की जाए, आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले व्यक्ति के विरूद्ध सूचना प्रोद्योगिकी अधिनियम के अंतर्गत अपराध पंजीबद्ध कर कठोर वैद्यानिक कार्यवाही की जावेगी साथ ही उसके ड्राइविंग लाइसेंस एवं शासन द्वारा विभिन्न योजनाओं के तहत मिलने वाली अन्य सुविधाओं से भी उन्हें वंचित किया जाएगा।

Comment